उल्फत के करिश्मों से भरी है जिदंगी
कोई जिंदा रह कर भी याद नहीं
कोई मर कर भी यादों मे जीवन पाता है
कथनी और करनी पर निभर्र है सब
उतार – चढाव कई है राहोँ मे जिदंगी

कभी समुद्र सी गहरी है
तो कभी महासागरों सी शांत है
तितली के पंखों सी रंगीन है कभी
तो कभी सादगी से परिपूर्ण है
कभी अमावस्य की तरह अधेरी है
तो कभी चन्द्रमा की तरह रोशनी से भरी है
फिर भी खुबसूरत है ये जिंदगी

रहना है गम और खुशी मे एक समान
जैसे दूध को रख कर दही बने
दही को मथकर मक्खन

मक्खन को जो और कडा
उभर आया फिर घी

दूध चले है दो दिन
दही चले  है चार
मक्खन को महीना रखो
वही घी चले सालों साल

मुसकुरा कर कर्म करें त़ो पत्थर भी मूरत बन जाये
दर्द को सहन न कर पाय तो सडकों पर ही रह जाये

जिदंगी उसी की सफल  है
जो हर परिस्थिति मे समान है
हर कठिन स्थिति मे चेहरे पर जिसके मुस्कान है
जो कुछ इस तरह दोस्ती निभाए जिदगी से कि
“ए- जिदंगी हर बार तु परीक्षा लेती है
चल आज तुझसे ही जंग हो जाए
क्यों न आज सबकुछ भूल कर तेरा इम्तिहान लिया जाए”

ऊँच – नीच तो जीवन का स्वभाव है
पर  उसको खुशी से जीना ही जिदंगी है
मुश्किलें तो आसान हो जाएगी तु कर्म तो कर
थोड़ा सा सभर, जिदंगी पर थोड़ा रहम तो कर
जिदंगी के असली मायने तो तभी है जब

दिल मे होगा कुछ कर गुजरने का जज्बा
और चेहरे पर खुशी की बहार
मंजिले करेगी सजदा तेरी
और राहें होगी गुलजार

रेणुका चौहान


13 Comments

Ajay Jamta · March 13, 2018 at 11:10 pm

Bahut achi poem h ranuka dil chun liya dear aapke loveso ne

Upender oli · October 28, 2017 at 8:29 pm

Very nice RENUKA. Keep it up or best of luck…

Upender oli · October 28, 2017 at 8:27 pm

Very nice dear, keep it or best wishes dear..

kiran · October 26, 2017 at 8:10 pm

Good post

Yashpal Sharma · October 26, 2017 at 8:08 pm

Good keep it up

Yash · October 26, 2017 at 7:14 pm

Keep it up

Nisha Sharma · October 26, 2017 at 7:03 pm

Great, keep it up

Anonymous · October 26, 2017 at 6:57 pm

Nice pome dear keep it up

Vijay rana · October 26, 2017 at 3:55 pm

Nicely written,,,,good,,,keeps writing

Devyani verma · October 26, 2017 at 2:26 pm

Soo nice dear .. lovely

Raman · October 26, 2017 at 1:25 pm

Beautiful Poem Renuka. Keep up good work and you’ll go a long way. Best wishes. 🙂

Manoj Sharma · October 26, 2017 at 1:11 pm

Welcome and best of luck Renuka. Keep it up.

    renuka5122 · October 26, 2017 at 1:12 pm

    All becoz of you sir thankyou

Leave a Reply

Your email address will not be published.

%d bloggers like this: