रैप स्टार Akon का पूरा नाम Aliaune Damala Dakha Bouga Time Puru Nacka Lu Lu Lu Badara Akon Thiam है। जितना बड़ा नाम है उसे से भी बड़ा इनका दिल है। गानों के लिए विशव भर की chart buster लिस्ट में अक्सर मौजूद रहते हैं। और दुनिया का शायद ही कोई कोना ऐसा होगा जहाँ उनके fans मोजूद न हों।

किसी ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि चोरी और हथियार रखने के जुर्म ने तीन वर्ष की जेल काटने वाला कोई आदमी कभी इतना बड़ा काम करेगा कि बड़े से बड़े उद्योगपति उसके सामने बौने प्रतीत होंगे।

मगर गानों के साथ-साथ Akon ने एक ऐसा कारनामा कर दिखाया है जिसके अफ्रीका के लाखों लोगों का जीवन बदला है। पुरे अफ्रीका महाद्वीप पर 60 करोड़ से भी ज्यादा लोग ऐसे हें जिनकी हर रात अँधेरी रहती थी क्यूंकि उनके पास किसी भी तरह से बिजली का कोई समाधान नहीं हैं। हर साल लगभग 30 लाख लोग सिर्फ धुएं से पैदा होने वाली बिमारियों से मर जाते थे।

Akon इस बात से बहुत आहात होते थे कि कितने ही लोग सिर्फ इसलिए अपनी जान गवां देते हैं कि उनके पास बिजली का कोई साधन नहीं हैं। बिजली का प्रावधान न होने के कारण लोगों को अपने घरों में रौशनी के लिए तरह तरह के इंधन का उपयोग करना पड़ता था और उसे से होने वाले प्रदुषण से लोग तरह तरह की बिमारियों की चपेट में आ जाते थे।

चूँकि सयुंक्त देशों द्वारा अफ़्रीकी देशों को पिछले 30 वर्षों से हर साल अरबों रूपये की मदद दी जाती है। हालाँकि ये मदद भोजन इंधन, बीजली इत्यादि सुविधाओं के लिए मुहैया करवाई जाती है मगर फिर भी उनके जीवन में कोई खास परिवर्तन नहीं आ रहा था। इसके पीछे का कारण था विभिन्न स्तर पर होने वाला भ्रष्टाचार है।

इस बात को ध्यान में रखते हुए 2014 में Akon ने एक business model के बारे में सोचा जो अफ्रीका के लोगों को के जीवन को आसन बना सके। इस के लिए Akon ने दो अन्य लोगों, Thione Niang (एक पोलिटिकल एक्टिविस्ट) तथा Samba Baithily (Solektra International के CEO) के साथ मिलकर एक प्रोजेक्ट की शुरुआत की जिसका नाम रखा गया AKON LIGHTING AFRICA“।

www.justhappyminds.com

इन तीनो लोगों का मानना था कि अगर दूर गाँव के लोगों के जीवन को रोशन करना है तो किसी भी अंतर्राष्ट्रीय सहायता से संभव नहीं हैं क्यूंकि इतने बड़े पैमाने पर कोई सहायता उपलब्ध नहीं होती है और जो कुछ होती भी है तो पनपे हुए भ्रष्टाचार के कारण जरूरतमंद लोगों तक नहीं पहुँचती है। उनका मानना था कि इस के लिए एक ऐसे समाधान की जरुरत है जहाँ बिना इंधन के खपत के इतनी उर्जा पैदा की जा सके कि लोगों तक उसे आसानी और कम कीमत के पहुँचाया जा सके।

एक ऐसे तरीके की जरुरत थी जो एक तरफ लोगों के लिए पर्याप्त उर्जा पैदा कर पर्यावरण में होने वाले प्रदुषण को कम करे और दूसरी तरफ लोगों के लिए रोजगार के अवसर भी प्रदान करे। और ये तभी संभव हो सकता था अगर किसी तरीके से renewable resources से इतनी बिजली पैदा की जा सकती कि करोड़ों लोगों तक कम से कम कीमत में पहुचाई जा सके।

वो बिलकुल सही थे एक साल से भी कम वक़्त में Akon Lighting Africa ने तरह-तरह के तरीकों से सौर उर्जा से बिजली बनाने वाले यंत्र को बनाना और लोगों तक पहुंचाना शुरू किया। ये प्रोजेक्ट इतना कारगर और सफल हुआ इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि मात्र एक साल में इतने लोग लाभान्भित हुए जितने कि पिछले 30 वर्षों में सयुंक्त देशों द्वारा सभी तरह की charity को मिलाकर भी नहीं हुए थे।

www.justhappyminds.com

Source: Internet

इस प्रोजेक्ट के लिए Akon और उनके साथीयों ने अपनी जिम्मेदारी पर 1अरब डॉलर यानिकी लगभग 65 अरब रूपये का कर्ज लिया। पैसों के साथ-साथ विभिन्न चुनोतियों को हराते हुए आज इस प्रोजेक्ट की निम्न उपलब्धियां हैं:-

  • शुरूआती funding: 1 बिलियन डॉलर = 65 अरब रूपये
  • अफ्रीका के 15 देशों में 480 समुदायों के 8 करोड़ लोगों तक लाभ
  • 1,00,000 street lights
  • बिजली वितरण के लिए 1200 micro grids
  • 1,02,000 सोलर घरेलु Solar kits
  • एक गाँव पर average खर्चा 75,000 डॉलर
  • 5500 लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार
  • Target: 60 करोड़ लोगों तक सोलर energy से बिजली पहुंचाना
www.justhappyminds.com

Source: Internet

आप इस प्रोजेक्ट के आकर से अंदाजा लगा सकता हैं कि बिना सरकार की मदद के इतने बड़े प्रोजेक्ट के बारे में सोचना भी अपने आप में एक हिम्मत का काम है। इस प्रोजेक्ट की सफलता को देखते हुए अब बहुत सारे investors भी इस तरफ आकर्षित हो रहे हैं और renewable energy के इस्तेमाल पर पैसा खर्च करने को भी तैयार हैं। अफ्रीका को remake करना ही Akon के जीवन का सबसे बड़ा मकसद बन गया है।

—————-

Also Read:

 

—–/-/////-/—–


Manoj Sharma

Writer, Trainer and Motivator

6 Comments

Nisha · December 3, 2017 at 8:48 am

Thats really great

Deepak Kumar · November 28, 2017 at 9:00 am

क्या बात है.. ज़बरदस्त.

Priyanka Patwari · November 19, 2017 at 9:54 pm

Good one

Priya · November 19, 2017 at 9:06 pm

Good guy

Anonymous · November 19, 2017 at 6:46 pm

hmm..its a kind of blog i like most…

kiran · November 18, 2017 at 10:37 am

Hmm. Great initiative

Leave a Reply

Your email address will not be published.