www.justhappyminds.com

प्रेरणा सार। The Essence Of Motivation

विज्ञान के अनुसार किसी भी काम को करने की आप की चाहत को प्रेरणा कहते है। यह एक ऐसी मनोवैज्ञानिक स्थिति होती है जो आप को कुछ करने के लिए मजबूर करती है। मैं यहाँ इस शब्द पर कुछ ऐसे विचार सांझा करना चाहता हुँ जो इस से ज्यादा meaningful और उपयोगी हो सकते हैं।

“क्यों” में छिपा है सफलता का राज।

यह बात 11 फरवरी 1990 की है। जापान के शहर Tokyo Dome की यह शाम एक ऐतिहासिक शाम होने वाली थी। सारे शहर की दीवारें “Tyson Is Back” लिखे हुए पोस्टर से सुसज्जित थी। पूरे विश्व के लोग रेडियो पर अपने कान अथवा टेलीविज़न पर टकटकी लगाए बैठे थे। विश्व Read more…

1400 अनाथ बच्चों की चौथी पास माँ, डॉ. सिन्धुताई की कहानी

1400 से ज्यादा अनाथों और असहायों के जीवन को रोशनी देने वाली दुनिया की सबसे ज्यादा बच्चों की महान माँ के जीवन की प्रेरणादाय कहानी।

कहानी एक बहादुर जापानी सैनिक की जो विश्व युद्ध के 28 साल बीत जाने के बाद भी लड़ता रहा युद्ध

एक जापानी सैनिक के बहादुरी की कहानी जिसने विदेशी जमीन पर विश्व युद्ध समाप्त होने के बावजूद 28 वर्षों तक युद्ध सिर्फ इसलिए जारी रखा क्योंकि उसे यह मालूम ही नहीं था कि जापान परमाणु आक्रमण के बाद हर गया और युद्ध समाप्त हो गया है।

Nyakim-Gatwech-justhappyminds.com

“अंधेरों की रानी” “Queen Of Dark” – Nyakim Gatwech

Hello Friends, मुझे उम्मीद है आप सब कुशल मंगल और खुश है। सबसे पहले में मेरे प्यारे पाठकों से माफी चाहता हूँ कि पिछले दो सप्ताह से ज्यादा समय से मैं आप लोगों से दूर रहा। इसके पीछे trainings का मेरा busy schedule मुख्य कारण है। आज की कहानी एक Read more…

कैसे किया AKON ने 8 करोड़ लोगों के जीवन को रौशन?

किसी ने सोचा भी नहीं होगा कि चोरी और बंदूक रखने के जुर्म में 3 साल तक जेल काटने वाला कभी ऐसा कुछ करेगा जिस से 60 करोड़ लोगों के जीवन में रोशनी की उम्मीद पैदा होगी।

अंतिम समय के 5 सबसे बड़े पछतावे। 5 Biggest Dying Regrets

हर इंसान अपने अंतिम समय मे बहुत से खेद या पचतावों के साथ जीते-जीते शरीर त्यागता है। इस लेख में 5 उन पचतावों के बारे में जिसे इंसान सबसे ज्यादा करता है।

एक 10 सवीं पास जिसने पाया सर्वोच्च नागरिक सम्मान “पदम श्री”: A School Dropout Who Fetched Biggest Indian Civil Award.

2015 में पदम श्री समान पाने वाले लोगों में से महानायक अमिताभ बच्चन के साथ एक ऐसा भी साधारण मगर महान इंसान था जिसने 10सवीं से आगे कोई पढ़ाई नहीं की थी।